Web Story Kya Hai in Hindi: Web Stories क्या है? Google web stories examples 2024

आज के इस लेख में हम आपको Web Stories के बारे में विस्तार से बताएंगे। Web Story Kya hai, गूगल सर्च और डिस्कवर में कैसा आता है, क्या इससे पैसे कमा सकते हैं? (Google web stories, web story kaise banaye
Web story app, google web stories se paise kaise kamaye, web stories download, how to see google web stories, google web stories examples) यह सब हम इस लेख में जानेंगे। तो आइए जानते हैं।

सारांश:- हर बार Google कोई न कोई नया तरीका लेकर आता है. गूगल ने इस बार इंस्टाग्राम की तरह अपनी गूगल वेब स्टोरीज भी लॉन्च की है। जो सिरफ अभी वर्डप्रेस के लिए उपलब्ध है। और यह Web Story आपको गूगल सर्च और डिस्कवर मी दिखाई देगा। चले अब थोड़ा विस्तार से जानते है “वेब स्टोरी क्या है? What is Web Stories in hindi”

कहानी क्या है?- What is Story

दोस्तो सबसे पहले जानते हैं “Story क्या है?” Story का हिंदी मतलब कहानी होता है, किसी कहानी को छवि के साथ कल्पना करना कहानी को रोचक बनाना है। ऐसे ही Web Stories काम करता है। टेक्स्ट और इमेज से बना हुआ कहानी लोगो को पसंद आता है।

वेब स्टोरी क्या है?- What is Web Stories in hindi

सरल भाषा में, Google वेब कहानियां एक दृश्य कहानी कहने का प्रारूप (visual storytelling format) है। जो यूजर्स को गूगल के सर्च रिजल्ट में दिखाई देगा और जब वे इस पर टैब करेंगे तो यह स्टोरी फुल फॉर्मेट में उनकी स्क्रीन पर आ जाएगी और यूजर्स टेक्स्ट रीड कर इमेज के साथ वीडियो देख पाएंगे।

ये तो गूगल ने बताया की वेब स्टोरी एक विजुअल स्टोरीटेलिंग फॉर्मेट है। लेकिन अब मैं आपको बिलकुल आसन भाषा में समझने की कोसिस करता हूं की वेब स्टोरी का मतलब क्या है।

बचपन में हमने कॉमिक्स या कविता या कहानी की किताबे जरूर पढ़ी है।

किताब में लिखी हुई कहानी मल्टीपल पेज का यानी एक से ज्यादा पेज का होता है और हर एक पेज में इमेज रहता है।

इसमें वीडियो तो नहीं होता है लेकिन इमेज देख कर कहानी का अनुभव करते है।

पहले पेज का इमेज देख कहानी का शुरू समझ जाते हैं ऐसे ही दसरे, तीसरे… पेज की इमेज से स्टोरी की कल्पना कर लेते हैं।

यदि एक लाइन में समझे तो, वेब स्टोरी एक तरह से एक Visual Storytelling Web Page Format है। लोगो को ग्राफिक्स/इमेज के साथ टेक्स्ट या वीडियो देखना खूब पसंद आता है। यह एक तारिके का शॉर्ट वीडियो जैसा ही है।

व्हाट्सएप, फेसबुक स्टेटस एक वेब स्टोरी जैसा ही है, जिसमे अपने फिलिंग को इमेज / टेक्स्ट / वीडियो से लोगो को देखने के लिए बनाते हैं। ट्विटर और लिंक्डइन पर अभी के लिए ऐसा सुविधा नहीं है।

वेब स्टोरी कौन बना सकता है?- Who can create a web story?

इस लेख को प्रकाशित करने की तारीख तक, गूगल के अनुसर जिन्के पास ब्लॉग/समाचार वेबसाइट है वह लॉग इज वेब स्टोरी बनाना जानते हैं। क्योंकि वेब कहानियां एक तरह से ब्लॉग या वेबसाइट वेब पेज हैं। इसमे भी एनालिटिक्स, मेटा टैग्स और एसईओ किया जाता है, जिस्की जानकरी आपको होनी चाहिए।

कोडिंग के बिना कहानी बनाना शुरू करने के लिए, कई कहानी संपादक टूल में से एक चुनें। जैसे की- गूगल का खुद का GoogleWebStories, Makestories2.0, VisualStories ..

अलग-अलग प्लेटफॉर्म के क्रिएटर्स स्टोरी बना रहे हैं, जैसे- इंस्टाग्राम के लिए Real, यूट्यूब के लिए Shorts और भी बहुत से प्लेटफॉर्म हैं जहां शॉर्ट वीडियो स्टोरी बनाते हैं लोग। लेकिन कुछ क्रिएटर्स के पास स्टोरी बनाने की नॉलेज एक प्लेटफॉर्म तक सिमित है।

इसलिय भारत के टॉप ब्लॉगर हर्ष अग्रवाल ने अपने एक साक्षात्कार में सतीश के वीडियो में बताया कि “परिवर्तन संसार का नियम है, हमें अपने आपको सिर्फ ब्लॉगर, या सिर्फ यूट्यूबर कह कर सिमित नहीं करना चाहिए।”

“हमें कंटेंट क्रिएटर्स बनाा है जो समय के साथ लोगो को पसंद को देखते हुए कंटेंट बना सके। जैसे अभी लोग टेक्स्ट पढ़ने से जायदा वीडियो देखना पसंद करने लगे हैं आने वाले दस वर्षो में वर्चुअल कंटेंट बनाना जरूरी हो जाए। हमें सामग्री निर्माता बनना है।”

वेब कहानी बनाते समय किन बातो को ध्यान रखना चाहिए

ऐसा बिलकुल नहीं है की मोबाइल से पोर्ट्रेट सामग्री बना देने से वेब कहानियां बन जाएगा, वेब कहानियां बनाने के कुछ नियम है। Google के अनुसार वेब स्टोरी एक विजुअल स्टोरीटेलिंग फॉर्मेट (Visual Storytelling Web Page Format) है। अब इसके नाम से ही समझते हैं।

विजुअल Visual :- इस्का मतलब दिखाई देने वाला, चलने वाला यानी एनिमेशन इफेक्ट सामिल होना।

कहानी सुनाना Storytelling:- इमेज/जीआईएफ/वीडियो/टेक्स्ट एनिमेशन इफेक्ट से लोगो को स्टोरी के बारे में समझाना है.

प्रारूप Format:- यह मोबाइल अनुकूल होना चाहिए क्योंकि दुनिया के लगभाग 75% से अधिक लॉग कंप्यूटर के मुकाबले स्मार्टफोन का इस्तमाल कर रहे है। इसलिए लोगो की सुविधा को देखते हुए एक डेवलपर द्वारा वेब स्टोरीज का फॉर्मेट है, जो मोबाइल पर जल्दी लोड होता है।


वेब स्टोरी बनाते समय निम बातों को ध्यान में रखा जाता है, दिए गए इमेज से समझ सकते हैं।

टेक्स्ट या छवियों की तुलना में वीडियो अधिक दिलचस्प होते हैं। अधिक से अधिक वीडियो का उपयोग करें और छवियों और टेक्स्ट के साथ उन्हें और अधिक रोचक बनाएं।

बहुत सारे टेक्स्ट वाले एकाधिक पृष्ठों को शामिल करने से बचें। पाठ के प्रति पृष्ठ 280 वर्ण (एक ट्वीट की लंबाई) तक रखें।

सुनिश्चित करें कि आपकी वेब स्टोरी का सभी टेक्स्ट पाठक को दिखाई दे रहा है।

एनिमेशन के साथ अपनी कहानियों को जीवंत बनाएं। विचलित करने वाले या दोहराव वाले एनिमेशन से बचें। इससे कहानी उबाऊ हो जाती है।

Web Story SEO करने के बेहतरीन तरीके

नोट: वेब पेजों के लिए SEO की सर्वोत्तम प्रक्रियाएं वेब कहानियों पर भी लागू होती हैं। ‘वेब स्टोरी’ अभी भी वेब पेज है।

अच्छी गुणवत्ता वाली उपयोगी सामग्री प्रदान करें जो पाठक के लिए उपयोगी और दिलचस्प हो। यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण बात है। अपने पाठकों को व्यस्त रखने के लिए, पूरी कहानी शामिल करें और कहानी कहने के सर्वोत्तम तरीकों का उपयोग करें।

शीर्षक छोटा रखें – शीर्षक को 90 वर्णों से छोटा रखें। हम एक सूचनात्मक शीर्षक का उपयोग करने की सलाह देते हैं जो 70 वर्णों से छोटा हो।

जांचें कि क्या Google Search ने आपकी वेब कहानी को अनुक्रमित किया है। यदि नहीं तो, साइटमैप में उसका URL जोड़ें, ताकि Google के लिए उसे ढूंढना आसान हो जाए।

अपनी कहानी में noindex विशेषता शामिल न करें; यह विशेषता Google को पृष्ठ को अनुक्रमित करने और उसे Google पर प्रकट होने से रोकती है।

इसके अतिरिक्त, अपनी वेब स्टोरी को अपने साइटमैप में जोड़ें। सर्च कंसोल में इंडेक्स कवरेज रिपोर्ट और साइटमैप रिपोर्ट यह जांच सकती है कि Google आपकी वेब स्टोरी ढूंढ सकता है या नहीं।

कहानी को स्वचालित रूप से प्रामाणिक बनाएं – सभी ‘वेब कहानियां’ प्रामाणिक होनी चाहिए। सुनिश्चित करें कि प्रत्येक वेब कहानी का अपना लिंक rel=”canonical” हो। उदाहरण के लिए: एक ही स्टोरी बार-बार रिपीट नहीं हुआ हो.

नोट: यदि एक ही वेब स्टोरी के एक से अधिक संस्करण विभिन्न भाषाओं में हैं, तो Google को स्थानीय संस्करण के बारे में बताना सुनिश्चित करें। यह मेटा टैग्स के जरिये किया जा सकता है, या वेब स्टोरीज मेकिंग टूल में भाषा चुनने की सेटिंग मौजूद रहती है.

सुनिश्चित करें कि आपकी वेब स्टोरी एएमपी स्टोरी मेटाडेटा दिशानिर्देशों का पालन करती है।

ऊपर लिखी गई गई टेक्निकल जानकारी आपको नहीं है तो घबराये नहीं यह सब आप WebStories मेकिंग टूल की मदद से आसानी से कर सकते है.

वेब स्टोरीज़ Web Stories Kya Hai in Hindi

वर्डप्रेस पर आप जो भी कंटेंट 1000 शब्दों में लिखते हैं, उसे आप यहां 125 शब्दों (500 से कम अक्षरों) में लिखकर तेजी से पोस्ट कर सकते हैं।

वेब कहानियां सामग्री का एक छोटा टुकड़ा जो एक दृश्य रूप से व्यवस्थित छवि या वीडियो है। आप आसानी से एक अच्छी और आकर्षक सामग्री बना सकते हैं। जिसे आसानी से शेयर किया जा सकता है।

वेब स्टोरीज़ में आप जो भी कहानी बनाते और प्रकाशित करते हैं, कोई भी उसे आसानी से साझा कर सकता है और उसे आपके ऐप्स और वेबसाइटों पर एम्बेड कर सकता है।

वेब स्टोरीज बहुत तेजी से लोड होती हैं, जिससे यूजर एक्सपीरियंस खराब नहीं होता है। यह उपयोगकर्ता का ध्यान आकर्षित करता है।

वेब कहानियां आपके पाठकों तक पहुंचने और अपनी सामग्री को आसानी से उनके सामने प्रस्तुत करने का एक आधुनिक और अच्छा तरीका है।

लाइक करने का अभी कोई विकल्प नहीं है इसमे। लेकिन आपके इंटरेस्ट पर गूगल आपको दिखा सकता है.

यूजर्स आपके कंटेंट की हेडलाइन पढ़कर आपके ब्लॉग पर आएंगे जिससे ट्रैफिक के साथ-साथ इनकम भी बढ़ेगा

WebStories से पैसे कैसे कमाए?

वेब कहानियों को मुद्रीकृत करने के कई तरीके हैं जो नीचे दिए गए हैं:

Story Ad: ये एकल पृष्ठ विज्ञापन हैं जो कहानी के बीच में पूर्ण स्क्रीन पर दिखाए जाते हैं।

जैसे हम अपने ब्लॉग को Google AdSense के माध्यम से Monetize करते हैं, वैसे ही ये Story Ads Web Stories को Monetize करेंगे।

Affiliate Links: आप अपने Affiliate Links को अपनी Stories में Monetize करने के लिए भी दे सकते हैं।

आर्टिकल प्रमोशन: आप अपनी वेब स्टोरी से अपने आर्टिकल पर ट्रैफिक ला सकते हैं।

Web Story से जुड़ी अन्य बातें

कहानी बनाने के बाद अगर आप पब्लिश पर क्लिक करते हैं तो आपकी स्टोरी गूगल के अलग-अलग प्लेटफॉर्म पर चली जाएगी।

अगर आपको अपनी वेबसाइट पर Google News की स्वीकृति मिल गई है, तो आपकी कहानी वहां भी प्रकाशित की जाएगी।

यदि आप बाद में चाहते हैं, तो आप अपने किसी लेख में वेब कहानी के एम्बेड कोड को कॉपी करके भी अपनी कहानी को दूसरे ब्लॉग पर एम्बेड कर सकते हैं।

वीडियो की लंबाई: आपके वीडियो की लंबाई 15 सेकंड से अधिक नहीं होनी चाहिए।

वीडियो फ्रेम: आपका वीडियो पोर्ट्रेट मोड में होना चाहिए न कि लैंडस्केप मोड में।

वीडियो सबटाइटल्स: कैप्शन आपके हर वीडियो के साथ होना चाहिए ताकि यूजर आपके वीडियो को देखने के साथ-साथ कैप्शन को भी पढ़ सके।

Web Stories कहां दिखाई देंगी?

आप इसे Google search, Google Images, Google Apps और Google Discover में देख पाएंगे। Google के ऐप्स Android और iOS पर दिखाए जाएंगे। गूगल ने इसकी शुरुआत अमेरिका, ब्राजील और भारत में की है। इस बड़े देश में इसकी और भी खोजें हैं।

मुझे उम्मीद है दोस्तों आपको यह जानकारी पसंद आई होगी, यदि हाँ तो प्लीज एक शेयर कर दीजिये, यदि सवाल सुझाव है प्लीज निचे कमेंट करे. आर्टिकल को पूरा पढ़ने के लिए दिल से धन्यवाद।

Web story example

FAQs- Web Story Kya Hai

ब्लॉगिंग में वेब स्टोरी क्या है?

वेब स्टोरीज वेब के लिए विजुअली रिच, फुल-स्क्रीन कंटेंट फॉर्मेट है जो आपको स्टोरीज को टैप या स्वाइप करने की सुविधा देता है। आप वेब स्टोरीज़ के माध्यम से टैप या स्वाइप कर सकते हैं। Google वेब स्टोरीज़ को Google खोज और डिस्कवर पर ढूंढ सकते हैं।

Google वेब कहानियां कहां दिखती है?

how to see google web stories? – Google वेब कहानियां मुख्य रूप से Google डिस्कवर फ़ीड में दिखाई देती हैं।

Google वेब स्टोरीज़ में थंबनेल का आकार क्या होना चाहिए?

Google वेब स्टोरीज़ में थंबनेल (google web stories Image Size) का आकार 640*853 px होना चाहिए।