International Yoga Day 2024: Yoga Diwas योग दिवस क्यों मनाया जाता है? History

अन्तरराष्ट्रीय Yoga Diwas 2024 प्रतिवर्ष 21 जून को मनाया जाता है। जीवन में कई ऐसे क्षण हैं जिन्होंने हमारी गति पर ब्रेक लगा दिया। हमारे आस-पास ऐसे कई कारण हैं जो तनाव, थकान और चिड़चिड़ापन को जन्म देते हैं, जिससे हमारा जीवन परेशान होता है। ऐसी स्थिति में जीवन को स्वस्थ और ऊर्जावान बनाए रखने के लिए योग एक रामबाण दवा है, जो शरीर को फिट रखता है।

योग हमारी भारतीय संस्कृति की सबसे पुरानी पहचान है। संसार की पहली पुस्तक ऋग्वेद में यौगिक क्रियाओं के बारे में कई स्थानों पर उल्लेख मिलता है। भगवान शंकर के बाद, योग की शुरुआत वैदिक ऋषियों और संतों से मानी जाती है।

Also Read: विश्व तम्बाकू निषेध अधिनियम कब लागू हुआ?

6 boys and girls in black dress are doing yoga together

योग क्या है?

योग धर्म, आस्था और अंधविश्वास से परे एक सरल विज्ञान है. योग जीवन जीने की एक कला है। योग शब्द के दो अर्थ हैं और दोनों ही महत्वपूर्ण हैं।

पहला संयुक्त है और दूसरा समाधि है।

जब तक हम स्वयं से नहीं जुड़ेंगे, तब तक समाधि तक पहुंचना मुश्किल होगा, अर्थात जीवन में सफलता के अंतिम लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए स्वास्थ्य, शरीर, मन और आत्मा बहुत महत्वपूर्ण हैं और यदि हम योग करें तो यह मार्ग अधिक सुलभ हो सकता है।

योग अभ्यास का प्रामाणिक चित्रण लगभग 3000 ई.पू. सिंधु घाटी सभ्यता के समय के टुकड़ों और मूर्तियों में पाई जाती है। योग सूत्र, योग का प्रामाणिक पाठ, 200 ईसा पूर्व से पहले का है। यह योग पर पहला सुव्यवस्थित ग्रंथ है।

ओशो के अनुसार, ‘योग धर्म, आस्था और अंधविश्वास से परे एक प्रत्यक्ष प्रायोगिक विज्ञान है। योग जीवन जीने की कला है। योग एक संपूर्ण चिकित्सा पद्धति है।

योग आज के परिवेश में हमारे जीवन को स्वस्थ और खुशहाल बना सकता है। आज के प्रदूषित वातावरण में योग एक ऐसी औषधि है। जिसका कोई साइड इफेक्ट नहीं है, लेकिन योग के कई आसन जैसे कि, शवासन उच्च रक्तचाप को सामान्य करता है.

योग में ऐसे कई आसन हैं जिन्हें जीवन में अपनाने से कई बीमारियां दूर हो जाती हैं और खतरनाक बीमारियों का असर भी कम हो जाता है। अगर आप 24 घंटे में से कुछ ही मिनट करते हैं, तो आप अपने स्वास्थ्य को फिट और स्वस्थ रख सकते हैं। फिट रहने के अलावा, योग हमें एक सकारात्मक ऊर्जा भी देता है। योग शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता विकसित करता है।

योग हमारे लिए हर तरह से आवश्यक है। यह हमारे शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। योग के माध्यम से आध्यात्मिक संतुष्टि, शांति और ऊर्जावान चेतना का एहसास होता है, जिससे हमारा जीवन हर दिन तनाव मुक्त और सकारात्मक ऊर्जा के साथ आगे बढ़ता है।

Also Read: राष्ट्रीय युवा दिवस क्यों मनाया जाता है?

Yoga Diwas कब और क्यों मनाया जाता है?

21 जून को साल का सबसे बड़ा दिन माना जाता है। इस दिन, सूरज जल्दी से उगता है और देर से डूबता है, इसलिए 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है।

पहला अंतरराष्ट्रीय योग दिवस कब मनाया गया था?

पहला अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 21 जून 2015 को दुनिया भर में मनाया गया था।

International Yoga Day का उद्देश्य क्या है?

दुनिया भर में लगभग 2 अरब से ज्यादा लोग योग का अभ्यास करते हैं। इस प्राचीन पद्धति के बारे में जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से हर साल 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस को कब मान्यता दी गई है?

11 दिसंबर 2014 को, संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाया जाने के लिए मान्यता दी थी।